WhatsApp Group   Join Now
Telegram Group Join Now
Education News

अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं पर भी मंडरा रहा है कोरोना का साया || Education News Update

अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं पर भी मंडरा रहा है कोरोना का साया । 


हर साल दिसंबर में होती हैं परीक्षाएं । लेकिन इस बार अभी तक सरकार की ओर से जारी नहीं हुए कोई दिशा निर्देश ।

2020 में कोरोना‌ महामारी का असर केवल आम जिंदगी तक‌ सीमित नहीं रहा बल्कि कोरना महामारी ने शिक्षा के ढांचे को पूरा अस्त-व्यस्त कर दिया। 

कोरोना महामारी का असर पहले ऑफलाइन कक्षाओं पर पड़ा था अब कोरोना का साया अर्धवार्षिक परीक्षा पर मंडराता नजर आ रहा है ‌।

अनुमन हर साल दिसंबर माह में अर्धवार्षिक परीक्षा होती है  फिर सर्दियों के ‌ अवकाश आ जाते हैं ।

इस बार नवंबर बीतने को है और सरकार की तरफ से  परीक्षाओं को लेकर कोई दिशा निर्देश जारी नहीं किए गए ।

ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि इस साल की अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं  ओर आगे बढ़ सकती है ।

क्योंकि इस बार कोरोनावायरस की वजह से स्कूल नहीं खुलने के कारण सेलेबस भी अब तक पूरे ना हो सका अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं के हिसाब से ।

इस साल लॉकडाउन के बाद एक भी ऑफलाइन क्लास स्कूल में संचालित नहीं हुई ।

हाल तो ऐसे है कि 8 महीने से स्कूल नहीं खुलने के कारण बच्चों की पढ़ाई इतनी दूर हो गई कि वो अपनी पढ़ाई को लेकर अब चिंता ग्रस्त होते जा रहे हैं ।

सरकार कर बैठे स्माइल प्रोग्राम के तहत बच्चों की  ऑनलाइन पढ़ाई करवा रही है । लेकिन गांव के बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई उपलब्ध करवाना इतना आसान नहीं है क्योंकि उनके पास इतने साधन उपलब्ध नहीं है कि वह ऑनलाइन पढ़ाई कर सके ।

ग्रामीण इलाकों में ऐसे कई विद्यार्थी है जिनके पास ऑनलाइन पढ़ाई के लिए कंप्यूटर लैपटॉप स्मार्टफोन के लिए पैसे उपलब्ध नहीं है ।

इधर राज्य सरकार ने बोर्ड की परीक्षाओं में सिलेबस में 40% की कटौती की है।

लेकिन पांचवी आठवीं बोर्ड के लिए अभी तक कोई ढांचा तैयार नहीं किया गया नहीं उनका सिलेबस और ने उनकी कक्षा के लिए कुछ समाधान।

इस स्थिति को देखकर यही लग रहा है कि अबकी बार अर्ध्दवार्षिक परीक्षा आगे खिसक सकती है जिसका सीधा असर विद्यार्थियों के आने वाले साल पर पड़ेगा ।

अब देखना यह होगा कि कब राज्य सरकार अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं को लेकर एक कमेटी तैयार करके उस पर फैसला ले ताकि विद्यार्थियों के आने वाला साल खराब ना हो ।

Half-yearly examinations are also being overshadowed by Corona.

Exams are held every year in December. But this time no guidelines have been issued by the government yet.

The impact of the Corona epidemic in 2020 was not limited to ordinary life only, but the Corona epidemic completely disrupted the education structure.

The corona epidemic had previously impacted offline classes, now corona’s shadow seems to be hovering on half-yearly examination.

Compliance Every year there is a half-yearly examination in the month of December and then there are 6 holidays in winter.

This time November is about to pass and no guidelines have been issued by the government regarding the examinations.

In such a situation, it is speculated that this year’s half-yearly examinations may proceed further.

Because this time due to coronavirus not opening school, celebs could not even complete according to the half-yearly examinations.

Not a single offline class operated in the school after the lockdown this year.

The situation is such that because of not opening school for 8 months, the education of the children has become so far away that they are now getting worried about their studies.

The government is providing online education to children under the tax-efficient smile program. But it is not so easy to provide online education to the children of the village because they do not have enough resources to study online.

There are many students in rural areas who do not have money available for computer laptop smartphone for online studies.

Here the state government has reduced the syllabus by 40% in the board examinations.

But no structure has yet been prepared for the fifth eighth board. His syllabus and some solutions for his class.

Looking at this situation, it seems that this time the half-yearly examination can move forward, which will have a direct impact on the students’ coming year.

Now it will have to be seen that when the state government should prepare a committee for the half-yearly examinations and decide on it so that the coming year of the students is not spoiled.

WhatsApp Group   Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment