Education News

College Admission Process After 12th Board Exam Cancellation

College Admission Process After 12th Board Exam Cancellation :- 12वीं की परीक्षा रद्द होने के कारण इस बार छात्रों के सामने एक नई परेशानी खड़ी हो गई है कि उन्हें इस वर्ष कॉलेजों में प्रवेश किस तरीके से मिलेगा इस बार 12वीं बोर्ड परीक्षा के रद्द होने पर सीबीएसई समेत राजस्थान बोर्ड का असेसमेंट पैटर्न बदलेगा। इसका असर निश्चित तौर पर उच्च शिक्षा पर आएगा। देश के शीर्ष संस्थान फर्स्ट ईयर की प्रवेश प्रक्रिया मे बदलाव कर सकते हैं। वहीं स्टेट यूनिवर्सिटीज फिलहाल एडमिशन के लिए मेरिट को क्राइटेरिया मान रही हैं। बदलाव इसलिए संभव है क्योंकि सीबीएसई 12वीं के लिए ऑब्जेक्टिव क्राइटेरिया से छात्रों को अंक देगा। वहीं राजस्थान मध्यप्रदेश उत्तराखंड और अन्य राज्य 12वीं की परीक्षा रद्द कर चुके हैं। स्पष्ट है कि 12वीं के मूल्यांकन में एक रूपता नहीं होने के कारण इसका असर हायर एजुकेशन में एडमिशन पर देखने को मिलेगा। यूजीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कमीशन पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है।

College Admission Process

12वीं कक्षा वालों को कॉलेज में प्रमोट करने के लिए सरकार की क्या गाइडलाइन होगी


यह भी सही है कि 12वीं के मूल्यांकन में एकरूपता नहीं होने से प्रवेश में दिक्कत आएगी। यूजीसी इस पर भी विश्वविद्यालयों के लिए गाइडलाइन बना सकता है। हालांकि कॉलेज व यूनिवर्सिटीज ऑटोनॉमस संस्थान हैं। वे स्वयं के निर्णय लेने में सक्षम हैं। देश की बड़ी यूनिवर्सिटीज की बात करें तो दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रवेश के लिए इस साल से प्रस्तावित सीयूसीईटी होने पर 50 प्रतिशत एंट्रेंस टेस्ट और 50 प्रतिशत बोर्ड के अंकों के आधार पर मेरिट तय करेगा। वहीं जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी तो एंट्रेंस एग्जाम का टेंटेटिव शेड्यूल भी जारी कर चुकी है। राजस्थान में उच्च शिक्षा के कमिश्नर संदेश नायक के अनुसार राज्य के कॉलेजों में सीबीएसई के कम छात्र आते हैं, इस कारण प्रदेश में अधिक दिक्कत नहीं आएगी। यहां के छात्रों को स्टेट की असेसमेंट पॉलिसी के आधार पर ही दाखिला मिलेगा।

इस विषय में K.L Verma का क्या कहना है

पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर छत्तीसगढ़ के वाइस चांसलर केएल वर्मा का कहना है कि सीबीएसई और छत्तीसगढ़ बोर्ड का रिजल्ट नहीं आया है। इन बोर्ड का रिजल्ट आने के बाद ही एडमिशन पॉलिसी तय की जाएगी। श्यामा प्रसाद मुखर्जी यूनिवर्सिटी रांची, झारखंड के वाइस चांसलर डॉ. एसएन मुंडा कहते हैं कि पहले भी कक्षा 12वीं के अंकों के आधार पर प्रवेश दिया जाता था। इस साल भी यही प्रक्रिया अपनाई जाएगी। College Admission Process

Leave a Comment